सुशांत सिंह को लेकर की गई शेखर सुमन की प्रेस कॉन्फ्रेस से परिवार नाराज, लगाया राजनीति का आरोप

Published Date: 1 Jul 2020 2:57 PM

दो दिन पहले शेखर सुमन ने सुशांत सिंह राजपूत के पटना स्थित पहुंचकर सुशांत की मौत पर परिवारवालों को सांत्वना दी थी. अगले दिन शेखर सुमन ने पटना में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के साथ मिलकर राबड़ी देवी के आवास पर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एक बार फिर सुशांत की मौत को एक बार फिर से असामान्य‌ करार दिया था.

मगर तेजस्वी यादव के साथ की गयी इस प्रेस कॉन्फ्रेंस को लेकर अब शेखर सुमन पर राजनीति करने का आरोप उनके परिवार की ओर से लगाया गया है. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में शेखर सुमन ने एक बार फिर से सुशांत सिंह राजपूत की मौत को संदेहास्पद बताया था और उनकी मौत की सीबीआई जांच करने की अपनी मांग भी दोहराई थी.

परिवार वालों का कहना है कि शेखर सुमन ने इस तरह की राजनीतिक प्रेस कॉन्फ्रेंस करने से पहले न ही उनसे किसी तरह की कोई इजाजत ली, न उन्हें इस बारे में सूचित किया कि वे आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव के साथ इस तरह से मीडिया को संबोधित करनेवाले हैं और न ही परिवार के किसी सदस्य को इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया.

परिवार का कहना है कि मुम्बई पुलिस पहले से ही इस मामले की गहन छानबीन कर रही है और ऐसे में अगर परिवारवालों को लगता है कि मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए, सुशांत की मौत में किसी साजिश का हिस्सा थी, तो वे खुद ही इस तरह की मांग करेंगे. परिवार इस बात को लेकर खासा नाराज है कि एक राजनीतिक मंच का सहारे सुशांत के नाम पर शेखर सुमन‌ ने इस तरह की बातें कहीं.

परिवारवालों ने शेखर सुमन और तेजस्वी यादव के साथ निर्माता संदीप सिंह द्वारा भी मंच साझा करने पर आपत्ति जताई है. सुशांत सिंह राजपूत मामले में मीडिया के सामने बयानबाजी करने को लेकर संदीप सिंह के खिलाफ मुम्बई पुलिस में पहले ही शिकायत दर्ज कराई जा चुकी है. सुशांत की मौत को “सामान्य” बताने और बॊलीवुड को इस मामले में “क्लीन चिट” देने पर आपत्ति दर्ज कराते हुए सुशांत सिंह राजपूत के पारिवारिक मित्र निलोत्पल मृणाल ने डीसीपी अभिषेक त्रिमुखे को एक खत लिखकर संदीप के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की थी.