सुशांत सुसाइड केस: मुंबई पुलिस के 42 दिन पर भरी बिहार पुलिस के तीन दिन

Published Date: 01 August 2020 03:37 PM IST
सुशांत सुसाइड केस: मुंबई पुलिस के 42 दिन पर भरी बिहार पुलिस के तीन दिन

सुशांत सुसाइड केस की जांच कर रही मुंबई पुलिस 42 दिनों में पूछताछ से आगे नहीं बढ़ सकी है. जबकि बिहार पुलिस की टीम ने तीन दिनों में ही जांच की दिशा हद तक स्पष्ट कर दिया है. सुशांत सिंह डिप्रेशन में क्यों आ गए ?, अब तक FIR दर्ज क्यों नहीं की जा सकी ? इस तरह के जवाब मुंबई पुलिस को नहीं मिल रहे हैं. सुशांत सिंह राजपूत की मित्र रही अंकिता लोखंडे पहले ही मुंबई पुलिस की जांच पर सवाल उठा चुकी हैं.

बिहार पुलिस के टीम ने तीन दिनों में गार्ड, सुशांत के दोस्त, सुशांत की बहन और अंकिता लोखंडे से पूछताछ कर कही अहम सबूत जुटा लिए हैं.

मुंबई पुलिस बगैर पोस्टमार्टम रिपोर्ट हाथ में आये सुसाइड मानकर नाम के लिए जांच कर रही थी. मुंबई पुलिस को यह तक नहीं मालूम था कि सुशांत के बैंक खाते से 15 करोड़ रूपये का हेराफेरी हुआ हैं. सूत्रों के खबर के अनुशार बिहार पुलिस कि जांच देखकर फिल्म इंडस्ट्री में भी हलचल मची हैं. ऐसी भी खबर आई हैं की बिहार पुलिस को मुंबई पुलिस मदद नहीं कर रही हैं.

बिहार पुलिस के जांच से मुंबई पुलिस के जांच पर भी कई सवाल उठ रहे हैं. बिहार पुलिस ने मुंबई पुलिस से सुशांत की लैपटॉप और मोबाइल माँगा हैं. मुंबई पुलिस ने लैपटॉप और मोबाइल आपने पास होने से इंकार कर दिया हैं. सवाल यह उठ रहा हैं कि मुंबई और अन्य जरुरी सामान रिहा के पास से जब्त कर उसकी जांच क्यों नहीं की गई ?