सुशांत केस: बीएमसी ने कहा, सीबीआइ टीम 1 हफ्ते से ज्यादा रही तो कर देंगे क्वारंटाइन

सुशांत केस: बीएमसी ने कहा, सीबीआइ टीम 1 हफ्ते से ज्यादा रही तो कर देंगे क्वारंटाइन

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अब अभिनेता सुशांत के मामले में सीबीआइ जांच करेगी. इधर, सीबीआइ की जांच पर बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने कहा कि अगर सीबीआइ की टीम 7 दिन से ज्यादा मुंबई में रहती है तो बीएमसी से इजाजत लेनी होगी. बीएमसी कमिश्नर इकबाल सिंह चहल ने कहा कि यदि सीबीआइ टीम 7 दिनों के लिए आती है तो उसे क्वारंटाइन से छूट दी जाएगी अगर वे सात दिनों से ज्यादा दिन के लिए आते हैं तो उन्हें हमारी ईमेल आईडी के माध्यम से छूट के लिए आवेदन करना होगा और हमसे इजाजत लेनी होगी.

BMC: सीबीआइ टीम 1 हफ्ते से ज्यादा रही तो कर देंगे क्वारंटाइन

आपको बता दे बिहार पुलिस के SP विनय तिवारी को मुंबई में बीएमसी द्वारा जबरन क्वारंटाइन किए जाने पर काफी विवाद हुआ था. पटना पुलिस के पत्र का जवाब देते हुए मुंबई महानगरपालिका के अतिरिक्त आयुक्त पी.वेलरासू ने कहा था कि बिहार में कोरोना की स्थिति को देखते हुए यह सलाह दी जाती है कि बिहार पुलिस के अधिकारी महाराष्ट्र के अधिकारियों के साथ डिजिटल माध्यमों जैसे की जूम, गूगल मीट, जियो मीट एवं माइक्रोसॉफ्ट टीम से ही बात करें. इससे वे भी संक्रमित होने से बचे रहेंगे और यहां के अधिकारी भी संक्रमित होने से बच सकेंगे.

Also Read: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर बोले अनिल देशमुख, मुंबई पुलिस ने सही तरीके से जांच की

संजय सिंह ने पत्र तीन अगस्त को विनय तिवारी के क्वारंटाइन के बाद लिखा था. इसमें उन्होंने लिखा था कि पटना से मुंबई गए एसपी विनय तिवारी एक मामले की जांच के लिए मुंबई गए हैं. यह एक वैधानिक प्रक्रिया है. उन्हें क्वारंटाइन किए जाने से जांच में बाधा पहुंच रही है. इसलिए विनय तिवारी को होम आइसोलेशन से मुक्त किया जाना चाहिए.

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णय का हम स्वागत करते हैं. हम सीबीआइ की टीम को मदद करेंगे. जब उनसे पूछा गया कि क्या मुंबई पुलिस सुशांत केस में समानांतर जांच करेगी. इस पर देशमुख ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के पैराग्राफ 34 के अनुसार राज्य सरकार विचार करेगी.

You May Like