26/11 आतंकी हमले के बाद मनमोहन सरकार ने दिखाई कमजोरी, मनीष तिवारी ने कबूला सच, BJP ने साधा कांग्रेस पर निशाना

आज भी मुंबईकरों (Mumbaikar) के जहन में 26/11 आतंकी हमलों की यादें ताजा। इस आतंकी हमले में करीब 166 बेगुनाह लोगों की जान चली गई थी। लेकिन इस हमले के बाद तत्कालीन मनमोहन सरकार ने आतंकी हमलों के लिए जिम्मेदार पाकिस्तान के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया था। अब यह बात कांग्रेस के दिग्गज नेता मनीष तिवारी ने भी अपनी किताब में कबूली है। जिसको लेकर अब विपक्षी दल भाजपा कांग्रेस पार्टी के खिलाफ हमलावर है।

भाजपा के तेज तर्रार विधायक राम कदम ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि, ‘ 2008 में 26/11 आतंकी हमले के बाद तत्कालीन महाराष्ट्र और केंद्र की सरकार हाथ पर हाथ धरकर बैठी थी। तत्कालीन केंद्र सरकार ने पाकिस्तान के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया। यह बात खुद मनीष तिवारी ने स्वीकार की है।

दरअसल, मनीष तिवारी ने अपनी किताब में लिखा कि, ‘2008 में हुए आतंकी हमलों के बाद कोई कार्रवाई नहीं हुई। यह मनमोहन सरकार की कमजोरी को दर्शाता है।

Reported By: Rajesh Soni

Also Read: https://metromumbailive.com/stone-pelting-in-ncp-office-know-the-whole-matter-2/

You May Like

%d bloggers like this: