भिवंडी में पांच फर्नीचर कारखाने जलकर खाक, आग पर ऐसे पाया गया काबू

भिवंडी शहर और आसपास के गोदामों में आग लगने की घटना आये दिन देखने को मिलती है। भिवंडी-ठाणे मार्ग पर काशेली क्षेत्र के चामुंडा परिसर में शुक्रवार (15 अक्टूबर) रात करीब 11 बजे एक फर्नीचर फैक्ट्री में आग लग गई। जिसमें 50 से अधिक गोदाम जलकर खाक हो गए। वहीं 5 फैक्ट्रियां भी जलकर खाक हो गई हैं।

इन सभी फैक्ट्रियों में लकड़ी, कपास, फोम और रेक्सिन का बड़ा भंडार है। इसलिए आग सभी कारखानों में फैल गई और सभी कारखाने जल गए। आग की सूचना मिलते ही भिवंडी, कल्याण और ठाणे से दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंचीं। उन्होंने कड़ी मेहनत के बाद आग बुझाई।

इसी बीच शार्ट सर्किट से आग लगने की आशंका जताई जा रही है। आग हर जगह फैल गई क्योंकि सभी फैक्ट्रियां पतरे के शेड में थीं। इस आग के कारण करोड़ों रुपये का कच्चा माल जल कर राख हो गया।

मौके पर पानी नहीं मिलने से आग बुझाने में दिक्कत हुई। हालांकि पानी की नियमित उपलब्धता के कारण आग पर काबू पा लिया गया है। इस बात की जानकारी ठाणे बाल्कम फायर स्टेशन के एक अधिकारी हिंदूराव बोंडवे ने दी है।

विशेष रूप से, चूंकि ये सभी कारखाने लीफ शेड से बने हुए हैं। सवाल यह है कि इन अनधिकृत निर्माणों की सुरक्षा के लिए कौन जिम्मेदारी लेगा? और उन्हें लाइसेंस किसने दिया था? कड़ी मेहनत के बाद आग पर काबू पा लिया गया है। गनीमत रही कि आग में किसी की जान नहीं गई।

Reported by – Rajesh Soni

Also Read – धोनी फिर बनने वाले है पापा

You May Like

%d bloggers like this: