तमाम सुरक्षा के साथ हुआ बप्पा का विसर्जन

महाराष्ट्र भर में हजारों श्रद्धालु गणपति की एक अंतिम झलक देखने के लिए उतावले रहते है। बप्पा की अंतिम विदाई देने के लिए लोगों की विसर्जन स्थल पर भीड़ उमड़ी रहती थी। आखिरकार आज कोरोना के बीच अनंत चतृर्थी पर बप्पा का विसर्जन हो ही गया।
हालांकि प्रशासन ने मुंबई सहित सभी शहरों में मूर्तियों के विसर्जन पर कड़ी प्रतिबंध लगा दी थी, और जगह जगह पुलिस बल और वॉलेंटियर्स तैनात किए गए थे। मुंबई में, बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने सोशल डिस्टेंसिंग और कोविड-उपयुक्त व्यवहार सुनिश्चित करने के लिए सख्त आदेश जारी किए थे, इसके अलावा निर्धारित विसर्जन स्थलों में प्रवेश करने की अनुमति देने वाले लोगों की संख्या पर एक सीमा निर्धारित किया गया। आज अनंत चतुर्थी के अवसर पर जगह जगह लोग बप्पा को विसर्जित किए । वही कहीं कोरोना नियमों का धज्जिया उड़ते देखा गया तो कहीं कोरोना नियमों की सख्ती से पालन किया और कराया जा रहा था।
बीते शुक्रवार को गणेशोत्सव शुरू होने पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने नागरिकों से कोरोनवायरस के खिलाफ मजबूत आंदोलन शुरू करने का आग्रह किया था। ठाकरे ने कहा था कि उन्होंने भगवान गणेश से प्रार्थना की थी कि वे सभी ‘बुराई और नकारात्मकता’ को नष्ट कर दें क्योंकि तीसरी लहर की आशंका बड़ी हो गई है ।

Reported by – Sakshi Sharma

Also Read – गणेश विसर्जन को देखते हुए मुंबई हाई अलर्ट पर

You May Like