नए ओमिक्रोन वैरिएंट से युवाओं को ज्यादा खतरा

दक्षिण अफ्रीका (South Africa) में पाए गए कोरोना के नए ओमिक्रॉन वेरिएंट (America variant) ने दुनिया भर में हड़कंप मचा दी है। दुनिया भर के कई देशों को अलर्ट कर दिया गया है। और कोरोना के इस नए रूप को संक्रमित होने से बचाने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं। इसी बीच ओमिक्रॉन वेरिएंट के बारे में अहम जानकारी सामने आई है।
दक्षिण अफ्रीका के विशेषज्ञों का कहना है कि यह प्रकार किसी भी बड़े सिंड्रोम की हल्की बीमारी का कारण है। इसके अलावा, इस वैरिएंट में बड़ी संख्या में म्यूटेशन ने विशेषज्ञों के बीच चिंता बढ़ा दी है। अमेरिका, यूरोप, कनाडा, इज़राइल और ऑस्ट्रेलिया सहित कई देशों ने दक्षिण अफ्रीका की यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया है।

मीडिया के अनुसार, इस वैरिएंट से हल्की बीमारी होने की संभावना है। बीमारी के हल्के लक्षण हैं। लक्षणों में मांसपेशियों में दर्द, थकान या दो दिन की बीमारी शामिल है।
यह जानकारी दक्षिण अफ्रीकी मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष एंजेलिक कोएत्ज़ी ने दी है।

अभी तक किसी को भी इस वैरिएंट के कारण स्वाद ना आने की परेशानी नहीं हुई है। संक्रमित लोगों को हल्की खांसी होने की संभावना अधिक होती है। ओमिक्रॉन से संक्रमित मरीजों का घर पर ही इलाज हो रहा है।’

अधिकारियों के मुताबिक अस्पताल में ओमिक्रोन से संक्रमित मरीजों की संख्या बहुत कम है। वहीं टीकाकरण लगा चुके लोगों में भी कोरोना के इस नए वैरिएंट का असर बेहद कम है। लेकिन जिन लोगों का टीकाकरण नहीं हुआ है उनकी स्थिति अलग हो सकती है।अधिकारी ने कहा कि नए वैरिएंट के बारे में अधिक जानकारी दो सप्ताह में उपलब्ध होगी।

यह वैरिएंट संक्रमित हो सकता है। हालांकि, यह अभी तक समझ में नहीं आया है कि यह वेरिएंट इतनी तेजी से कैसे प्रसारित होता है? हम इसके बारे में और सीख रहे हैं। अधिक जानकारी अगले कुछ दिनों में उपलब्ध होगी। फिलहाल कुछ मरीजों को इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। ये सभी मरीज युवा हैं। कोएत्ज़ी ने कहा कि उनकी औसत उम्र 40 साल है। कुछ देशों ने दक्षिण अफ्रीका से परिवहन पर प्रतिबंध लगा दिया है। जिसका कोएत्ज़ी ने विरोध किया है।

Reported By: Rajesh Soni

Also Read: https://metromumbailive.com/thackeray-government-of-two-years-complete/

You May Like

%d bloggers like this: