ओमिक्रोन के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने जारी की नई गाइडलाइंस

कोरोना के(Corona)नए वैरिएंट (Variant) ने पूरी दुनिया की टेंशन बढ़ा दी हैं। वहीं नए वेरिएंट ओमिक्रोन को लेकर भारत में भी दहशत साफ देखी जा सकती है। कई देशों में ओमिक्रोन के मरीज मिलने के बाद से हर देश सतर्क हो गया है। इसी वजह से अब कई देशों ने ओमिक्रोंन को लेकर नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। मोदी सरकार ने भी कोरोना के नए वैरिएंट के खतरे के मद्देनजर संशोधित दिशा-निर्देश जारी किए हैं। संशोधित दिशानिर्देशों के अनुसार, कोरोना से ग्रसित देशों से आने वाले उन लोगों के लिए भी हवाई अड्डे पर कोरोना परीक्षण अनिवार्य होगा, जिन्हें टीका लगाया जा चुका है।

ओमिक्रोन से ग्रसित देशों के नागरिकों को भारत आने से 72 घंटे पहले कोरोना का टेस्ट कराना होगा। साथ ही भारत में एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद भी कोरोना की दोबारा जांच करनी होगी। जांच में पॉजिटिव पाए जाने वाले लोगों को कवरन्टीन में रखा जाएगा। उनका इलाज भी क्लीनिकल मैनेजमेंट प्रोटोकॉल के अनुसार किया जाएगा।

साथ ही उनके सैंपल पूरे जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए दिए जाएंगे। एयरपोर्ट पर कोरोना टेस्ट नेगेटिव आने वाले यात्रियों को घर जाने की इजाजत होगी। भारत में आने के आठवें दिन फिर से कोरोना का परीक्षण किया जाएगा। उसके बाद 7 दिन सेल्फ मॉनिटरिंग करनी होगी।

Reported By: Rajesh Soni

Also Read: https://metromumbailive.com/covid-center-will-start-again-patients-need-to-be-alert-mayor-pednekar/

You May Like

%d bloggers like this: