कंगना रनौत के मुंबई को POK बताने वाले ट्वीट पर भड़की मनसे, दी ये चेतावनी

Published: 25/09/2020 10:56 PM
कंगना रनौत के मुंबई को POK बताने वाले ट्वीट पर भड़की मनसे, दी ये चेतावनी

शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay raut) द्वारा मुंबई वापस न आने की बात पर अभिनेत्री कंगना रनौत (kangana Ranaut) की ट्वीट जिसमे उन्होंने मुंबई को POK बताया था, इस ट्वीट की वहज से लगातार दूसरे दिन कंगना रनौत सुर्खियों में है.

कंगना ने मुंबई पुलिस की आलोचना करते हुए आरोप लगाया था कि बॉलीवुड ड्रग माफिया के खिलाफ बयान देने के लिए उन्हें चुप कराने की कोशिश की जा रही है.

शुक्रवार को, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) मुंबई पुलिस की आलोचना नहीं करने की चेतावनी देते हुए मैदान में कूद गई, जबकि कांग्रेस ने कंगना रनौत की ओर से पर्दे के पीछे काम करने के लिए भाजपा आईटी सेल को दोषी ठहराया. इसके अलावा, दो अभिनेताओं, रेणुका शहाणे और उर्मिला मातोंडकर ने कंगना की आलोचना की.

एमएनएस (MNS) फिल्म वर्कर्स यूनियन की प्रमुख अमेय खोपकर ने कंगना को चेतावनी देते हुए कहा कि “मुंबई पुलिस (Mumbai Police) के खिलाफ कुछ भी बर्दाश्त नहीं करेंगे. आज, मुंबई केवल मुंबई पुलिस के कारण सुरक्षित है क्योंकि महिलाएं आधी रात को भी यात्रा कर सकती हैं. हम किसी को भी मुंबई पुलिस की अनुचित आलोचना नहीं करने देंगे.“

कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत (Sachin sawant) ने आरोप लगाया कि पूरे अभियान को बीजेपी आईटी सेल चला रही है.

सावंत ने कहा, “कंगना सिर्फ एक चेहरा है, लेकिन भाजपा सरकार द्वारा राज्य सरकार को बदनाम करने के लिए पूरा अभियान चलाया जा रहा है.” उन्होंने कंगना के बचाव के लिए भाजपा विधायक राम कदम का नार्को टेस्ट की भी मांग की.

“हम राम कदम के नार्को टेस्ट की भी मांग करते हैं जो लगता है कि विवेक मोइत्रा के दिनों से ड्रग्स और आपूर्तिकर्ताओं का अपार ज्ञान है. हम यह भी जानना चाहेंगे कि भाजपा का ड्रग्स से क्या संबंध है और संदीप सिंह किसके साथ भाजपा महाराष्ट्र कार्याला में बात कर रहे थे.”

राम कदम (Ram Kadam) ने सावंत को जवाब देते हुए कहा कि असली मुद्दा रनौत पर दबाव बनाने के प्रयासों के बारे में है. “जब भी वे मुझे चाहते हैं मैं नार्को टेस्ट के लिए तैयार हूं. मैंने कभी अपने बॉलीवुड कनेक्शन को नहीं छिपाया. मैं मुंबई में सबसे बड़े दही हांडी उत्सव का आयोजन करता हूं और शाहरुख खान सहित सभी फिल्मी सितारे वहां आते हैं. हालांकि, यहां मुद्दा कंगना पर दबाव बनाने और बॉलीवुड माफिया को बचाने की कोशिश का है.”

संजय राउत ने कहा, “अगर उसके पास ड्रग माफिया का सबूत है, तो उसे सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने के बजाय महाराष्ट्र सरकार या पुलिस को सबूत सौंपना चाहिए.”

राम कदम ने कहा, “पूरी कोशिश की जा रही है कि वह बॉलीवुड की सांठगांठ को उजागर ना कर पाए. महाराष्ट्र सरकार को याद रखना चाहिए कि कंगना झांसी की रानी है.”

कंगना रनौत के ट्वीट पर उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) ने कहा “महाराष्ट्र भारत का सांस्कृतिक और बौद्धिक चेहरा है. शिवाजी महाराज की भूमि. मुंबई ने करोड़ों भारतीयों को नाम दिया है. इसके बदले में वे इसकी तुलना पीओके के साथ कर सकते हैं. ये हैरान और निराश कि बात है.”

Also Read: कंगना रनौत के ट्वीट से हिली मुंबई, ट्वीट में कहा था मुंबई पाकिस्तान जैसा लग रहा है