महाराष्ट्र और मुंबई में ओमिक्रोन को देखते सतर्कता बढ़ी।

कल देशवासियों के लिए एक बुरी खबर सामने आई थी। जहा कर्नाटक में दक्षिण अफ्रीका (South Africa) से आए दो लोग कोरोना पॉज़िटिव पाए गए है। मुंबई नगर निगम ने भी अब इनसब को देखते हुए सतर्कता बरतना शुरू कर दिया है। क्यूंकि दूसरी लहर के दौरान सबसे ज्यादा नुक्सान महाराष्ट्र और मुंबई को ही हुआ था।

मुंबई (Mumbai)की मेयर किशोरी पेडनेकर ने भी नागरिकों से एक अहम अपील की है। राज्य सरकार के नियमों के अनुसार 3 उच्च जोखिम वाले देश हैं। वहां से आने वाले लोगों की कोरोना टेस्टिंग और जीनोम सीक्वेंसिंग की जाएगी। घरेलू उड़ान से आने वालों के लिए टीकाकरण पूरा होने का प्रमाण पत्र आवश्यक होगा। पेडनेकर ने कहा कि मुंबई एयरपोर्ट पर निगम की ओर से राज्य सरकार के नियमानुसार नियमों का पालन किया जाएग। उन्होंने यह भी कहा कि मुंबई को कर्नाटक सीमा और महाराष्ट्र सीमा पर सुरक्षित रखने के प्रयास किए जा रहे हैं।केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक कर्नाटक में ओमाइक्रोन के दो मरीज मिले हैं। यह स्पष्ट किया गया है कि ये दोनों मरीज पिछले 24 घंटों में मिले हैं। ओमाइक्रोन कोरोना का नया रूप है और इसने अफ्रीका के साथ-साथ यूरोप में भी तबाही मचा दी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन(WHO ) के मुताबिक, ओमाइक्रोन कोरोना डेल्टा से कई गुना ज्यादा खतरनाक है।

ओमाइक्रोन दुनिया भर के 29 देशों में फैल गया है और कुल 373 मामले सामने आए हैं। एक अध्ययन के अनुसार, ओमाइक्रोन 5 गुना अधिक संक्रामक है। इस बीच आरटी पीसीआर टेस्टिंग से वायरस की पहचान की जा सकती है।

Reported By: Tripti Singh

Also Read: https://metromumbailive.com/now-for-no-parking-in-maharashtra-500-and-triple-seat-1-thousand-rupees-fine/

 

You May Like

%d bloggers like this: