पंढरपुर के विधानसभा उपचुनाव में MVA प्रत्याशी की हार पर किरिट सौमैया ने साधा निशाना, कहा- ‘जनता ने जड़ा कड़ा थप्पड़….’

MVA एमवीए सरकार के संकट की जड़ें

पश्चिम बंगाल (West Bangla) विधानसभा में ममता बैनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस को लगभग स्पष्ट बहुमत मिल चुका है। पर महाराष्ट्र (Maharashtra) के पंढरपुर विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में भाजपा भगवा लहराने में सफल हुई है। पंढरपुर विधानसभा सीट पर भाजपा उम्मीदवार समाधान अवताड़े ने महाविकास आघाडी सरकार (MVA) के सयुंक्त उम्मीदवार भागीरथ भाल्के को हरा दिया। शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी मिलकर भी भाजपा को पंढरपुर सीट पर हरा नहीं पाई। इसी जीत को लेकर भाजपा के कद्दावर नेता और पूर्व सांसद किरिट सौमैया ने महाविकास सरकार पर बड़ा प्रहार किया है।

किरिट सौमैया ने महाविकास आघाडी सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा कि, ‘पंढरपुर चुनाव जीतने के लिए बीजेपी के समाधान अवताड़े को बधाई। क्या अब ठाकरे सरकार महावसूली अभियान को रोक देगी? लोगों ने कोरोना भ्रष्टाचार के लिए महाविकास आघाडी को थप्पड़ मारा है।

वहीं बंगाल चुनाव में ममता बैनर्जी की जीत पर खुशी मनाने वाले कांग्रेस-एनसीपी (NCP) के नेताओं को भी किरिट ने आड़े हाथों किया है। उन्होंने कहा कि, ‘पश्चिम बंगाल (West Bangla) में कांग्रेस मित्र पक्ष का ग्राफ 103 से 3 पर आ गया और भाजपा की सीटें 3 से बढ़कर 83 हो चुकी है। क्या इस वजह से शिवसेना और एनसीपी के नेता मिठाई बांट रहे हैं। पर पंढरपुर का क्या?

गौरतलब है कि पिछले वर्ष नवम्बर में कोरोना के कारण एनसीपी विधायक भरत भाल्के का निधन हो गया था। इसी वजह से यहां विधानसभा उपचुनाव कराने की जरूरत पड़ी। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने भाजपा के समाधान अवताड़े के खिलाफ दिवंगत विधायक के बेटे भागीरथ भाल्के को टिकट दिया था। जिन्होंने 2019 के विधानसभा चुनाव निर्दलीय और शिवसेना के टिकट पर 2014 का चुनाव लड़ा था।

Report by : Rajesh Soni

Also read : महाराष्ट्र में नहीं लगेगा पिछले साल की तरह सम्पूर्ण लॉकडाउन-उद्धव ठाकरे

You May Like

%d bloggers like this: