मुम्बई से सटे ठाणे में ट्रैफिक नियमों को तोड़ने वालों के खिलाफ हुई कार्रवाई

मुम्बई से सटे ठाणे (Thane) जिले में यातायात विभाग ने लॉकडाउन के दौरान बिना कारण बाहर निकलने और नियमों को तोड़ने वाले वाहन चालकों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की है। कोरोना काल में रेलवे के बंद होने के कारण बड़ी संख्या में वाहन सड़कों पर आ गए और धड़ल्ले से यातायात नियम तोड़े गए।

ये नागरिक निजी वाहनों में यात्रा कर रहे थे क्योंकि लॉकडाउन के दौरान आम आदमी को बिना कारण पब्लिक ट्रांसपोर्ट में घूमने और बिना कारण बाहर निकलने की अनुमति नहीं थी। वहीं पुलिस ने भी लॉकडाउन के दौरान बिना जरूरी काम वाहर निकलने वाले और ट्रैफिक नियमों को तोड़ने वालों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की है।

इस दौरान 344 लोगों के खिलाफ मासक ना पहनने को लेकर कार्रवाई की गई। इसके अलावा ट्रैफिक नियम तोड़ने वाले करीब 2 हजार 744 वाहन मालिकों के खिलाफ कार्रवाई की है। इन सभी लोगों से पुलिस ने दंड के रूप में 13 लाख रुपये वसूले है।

वहीं वाहनों के साइलेंसर बदलकर और अटपटा हॉर्न लगाकर ध्वनि प्रदूषण करने वाले 400 वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। हॉर्न बदलने के लिए 150 लोगों पर कार्रवाई की गई है। स्पेशल हॉर्न के कारण होने वाले ध्वनि प्रदूषण को लेकर नागरिकों ने ट्रैफिक डिपार्टमेंट से शिकायत की थी। इसी वजह ट्रैफिक डिपार्टमेंट ने ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए एक स्पेशल ड्राइव चलाई। वहीं इस दौरान पुलिस ने गाड़ियों से ब्लैक फ़िल्म भी हटाई है। यह जानकारी ठाणे के ट्रैफिक डिपार्टमेंट के डिप्टी कमिश्नर बालासाहब पाटील ने दी है।

Report by : Rajesh Soni

Also read : बकाया बिजली बिल की वसूली करने गए अधिकारी के साथ मारपीट

You May Like

%d bloggers like this: