देश में दशहरा मनाने के लिए कोरोना नियमों का करना होगा पालन

देश में लगातार कोरोना के मरीजों की संख्या घटती ही जा रही है। इस बीच दशहरा त्योहार आने में अब कुछ दिन ही बचे हैं। इस बार दशहरा 15 अक्टूबर को मनाया जाएगा।इस दिन रावण दहन देखने को लेकर लोग काफी उत्साहित रहते हैं। लेकिन कोरोना की वजह से कई जगहों पर सख्त गाइलाइन जारी कर दी गयी है। ऐसे में देश के तमाम राज्यों के बड़े शहरों में दशहरा की तैयारी भले ही कर ली गई है, लेकिन दशहरा मनाने के लिए कोरोना के कड़े नियमों का पालन करने के लिए अनिवार्य कर दिया गया है।

मध्यप्रदेश (MP) में तो दशहरा मनाने के लिए कड़े नियमों का पालन करना अनिवार्य कर दिया गया है, यहाँ तक कि दशहरा पर्व मनाने के लिए जिला अधिकारी से आदेश लेना अनिवार्य कर दिया गया है। जबकि राजस्थान राज्य में गरबा और डांडिया खेलने वाले लोगों को पूरी तरह से छूट दे दी गई है। राजस्थान सरकार ने कहा है कि किसी भी आयोजन में 200 लोग शामिल हो सकते हैं।

जबकि देश की आर्थिक राजधानी कही जाने वाली मुंबई में रावण दहन को लेकर बीएमसी ने अभी कोई भी गाइड लाइन जारी नहीं की है। जबकि यूपी के लखनऊ में 400 वर्षों से दशहरे के त्यौहार को ऐश बाग में बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है। देश मे कोरोना संकट के बीच दशहरा मनाने के लिए कोरोना नियमों का पालन करना सभी राज्यों में अनिवार्य कर दिया गया है। नियमों में कुछ छूट देने की वजह से लोग दशहरा मना सकते हैं।

Report by : Brijendra Singh

Also read :

You May Like