महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस कोरोना से संक्रमित

Published Date: 24 October 2020 07:36 PM IST
महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस कोरोना से संक्रमित

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और राज्य के विपक्षी नेता देवेंद्र फड़नवीस कोरोना से संक्रमित हुए. देवेंद्र फडणवीस ने खुद ट्वीट कर जानकारी दी. फडणवीस ने कहा कि मेरा कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आया है और मैंने खुद को अलग कर लिया है. देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि डॉक्टर की सलाह पर उनका इलाज चल रहा है. (Devendra Fadnavis Corona Positive)

देवेंद्र फडणवीस ने उन लोगों को भी सलाह दी है, कि जो उनके संपर्क में आए थे वे आपना कोरोना टेस्ट करवा लें. फडणवीस ने ट्वीट में कहा कि लॉकडाउन शुरू होने के बाद से मैं हर दिन काम कर रहा हूँ. लेकिन अब भगवान चाहते है कि मैं थोड़ी देर आराम करलू. मेरा कोविद (COVID19) टेस्ट पॉजिटिव आया और मैंने खुद को क्वारंटाइन कर लिया. मैं डॉक्टर की सलाह के अनुसार दवा ले रहा हूँ.

देवेंद्र फड़नवीस हाल ही में पश्चिमी महाराष्ट्र आए थे. उनका दौरा बारामती से शुरू हुआ. फड़नवीस ने पुणे, सोलापुर और उस्मानाबाद के कई गांवों का दौरा किया था. इस यात्रा के दौरान, कई नेता और ग्रामीण उनके संपर्क में आए. इसके अलावा उन्होंने बिहार चुनाव के मौके पर भी प्रचार किया था. यही वजह है कि देवेंद्र फडणवीस कॉरोना की चपेट में आए.

इस बीच, देवेंद्र फडणवीस ने अपने दोस्त और भाजपा के संकटमोचक गिरीश महाजन से अनुरोध किया था कि अगर वह कोरोना से संक्रमित हुए तो उन्हें एक सरकारी अस्पताल में ले जाना चाहिए. फडणवीस-महाजन की फोन पर बातचीत का एक क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. उसके बाद, महाजन ने खुद इस तरह की बातचीत की खबर की पुष्टि की थी.

गिरीश महाजन ने वायरल क्लिप पर कहा था कि “नेता मण्डली, मंत्रिमंडल के सदस्य, धनी मंडलियाँ हैं, वे ब्रिच कैंडी में प्रवेश करते हैं. उनके पास पैसा है, लेकिन सरकार के रूप में हमारी जिम्मेदारी है. साहेब (देवेंद्र फड़नवीस) ने भी यही महसूस किया, कि कोई नेता, कोई विधायक, कोई सांसद, कोई मंत्री अगर ब्रीच कैंडी, लीलावती, जसलोक या बॉम्बे हॉस्पिटल मैं जाता है, तो ठीक है. लेकिन अगर मैं कोरोना से संक्रमित हो जाता हूं, तो मुझे सेंट जॉर्ज के सरकारी अस्पताल, मुंबई में भर्ती कराया जाना चाहिए.”

Also Read: बीजेपी के चुनावी नारे पर बोले संजय राउत, बाकि लोगों को मुफ्त में वैक्सीन नहीं मिलेगा