एंटीलिया केस में धमाका : देशमुख ने सचिन वझे को हर महीने 100 करोड़ वसूलने का दिया था टारगेट

परमबीर सिंह की याचिका को SC ने किया खारिज, अब BC से उम्मीद

मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह (Parambir singh) ने महाराष्ट्र सरकार के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर वसूली करवाने का आरोप लगा कर धमाका कर दिया है। उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को एक चिट्ठी लिखी है, जिसमें दावा किया है कि अनिल देशमुख ने सचिन वझे को टारगेट दिया था की वे मुंबई के बार और रेस्टोरेंट से हर महीने 100 करोड़ रुपए वसूले ।

परमबीर सिंह (Parambir singh) के इस खुलासे से महाराष्ट्र की राजनीती में भूचाल आना तय है, क्योंकि यह कोई मामूली बात नहीं है. यह गृह मंत्री पर सीधा आरोप है, जबकि सिंह के आरोप लगाते ही गृह मंत्री अनिल देशमुख ने फ़ौरन इसका खंडन किया है. देशमुख ने कहा है कि यह मुझे फंसने की साजिश है l

जबकि मुख्‍यमंत्री को लिखी चिट्ठी में परमबीर सिंह (Parambir singh) ने कहा है कि गृह मंत्री अनिल देशमुख ने मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर विस्फोटक रखने के आरोपी पुलिसकर्मी (Parambir singh) सचिन वझे को हर महीने रेस्टोरेंट, होटल, बियर बार आदि से एक सौ करोड़ उगाहने के आदेश दिए थे।

चिट्ठी में परमबीर सिंह (Parambir singh) ने लिखा है कि मुंबई पुलिस की अपराध शाखा के क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट के हेड सचिन वझे को देशमुख ने पिछले कुछ महीनों में कई कई बार अपने सरकारी निवास पर बुलाया था, जहां सचिन वझे को हर महीने 100 करोड़ रुपये की वसूली करने का आदेश दिया। दूसरी तरफ, इस पूरे मामले में गृह मंत्री अनिल देशमुख इस आरोप को नकारते हुए अपनी सफाई दी है।

देशमुख ने कहा कि परमबीर सिंह सचिन वझे मामले में खुद को कानूनी करवाई से बचाने के लिए झूठा आरोप लगा कर मामले को अलग दिशा में घुमाने की कोशिश कर रहे हैं। देशमुख ने कहा कि मुकेश अंबानी सहित मनसुख हिरेन केस में सचिन वझे की संलिप्‍तता स्‍पष्‍ट हो रही है और जांच की आंच उम्मीद कीजिये, परमबीर सिंह तक भी पहुंच सकती है।

Also read: मुंबई में मनसे ने उड़ाई सोशल डिस्टन्सिंग की धज्जियां, हल्दी कुमकुम में पहुंची 400 महिलाएं

 

You May Like

%d bloggers like this: