पवार और ममता की मुलाकात पर राउत का बड़ा बयान, कहा-‘अक्सर क्षेत्रीय दल के नेताओं ने राष्ट्रीय स्तर पर नेतृत्व किया’

राकांपा नेता शरद पवार (Sharad Pawar)और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज मुलाकात करेंगे। इस बैठक पर शिवसेना के राज्यसभा सांसद और नेता संजय राउत का बयान सामने आया है। उन्होंने बैठक को लेकर कहा कि, ‘बैठक होनी चाहिए, जिससे संवाद और चर्चा होती है। एक मजबूत विपक्ष की तलाश की जा सकती है।

राउत ने आगे कहा कि, ‘शरद पवार विपक्ष के भीष्मपितामह हैं, तो ममता बनर्जी राष्ट्रीय राजनीति का आकर्षण हैं। सोनिया गांधी और ममता बैनर्जी भी मिलने वाली हैं। कांग्रेस के बिना विपक्ष एकजुट नहीं हो सकता। देश में विपक्ष ममता बनर्जी को उम्मीद की नजर से देख रहा है। एक मजबूत विपक्ष का विकल्प खड़ा हो सकता है। ममता बनर्जी को हराने के लिए बीजेपी ने सत्ता, संपत्ति और तंत्र का पूरा इस्तेमाल किया। प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह ने भी ममता की तारीफ की है। इसी वजह से ममता बनर्जी राष्ट्रीय राजनीति का आकर्षण बन गई हैं।

शरद पवार विपक्ष के भीष्मपितामह हैं। विपक्ष कमजोर होगा तो, लोकतंत्र कमजोर होगा। अक्सर क्षेत्रीय दल के नेताओं ने राष्ट्रीय स्तर पर नेतृत्व किया है।

आपको मालूम हो कि, ‘पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज अंतरिम कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राकांपा अध्यक्ष शरद पवार से मुलाकात करेंगी।
कांग्रेस नेतृत्व के साथ प्रशांत किशोर की बातचीत के बाद ममता बनर्जी यूपीए के दो प्रमुख नेताओं के साथ बातचीत करेंगी।
कल ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके आवास पर मुलाकात की थी। ममता बनर्जी की मौजूदगी में तृणमूल कांग्रेस के सांसदों की बैठक भी होगी।
पेगासस मुद्दे पर तृणमूल कांग्रेस ने भी कांग्रेस की तरह दोनों सदनों में आक्रामक रुख अख्तियार कर रखा है।

You May Like